You are here: Home
  • Increase font size
  • Default font size
  • Decrease font size

Ghuisarnath Dham

●●●●●●●●▬▬▬▬▬▬۩श्रावण मास۩▬▬▬▬▬●●●●●●●●●●

 

1
2
3
4
5
6
7
8
9
10

श्रावन मास में कांवरियों एवं श्रद्धालुओं के हर-हर महादेव बम-बम भोले जैसे जयघोषों से पौराणिक बाबा घुश्मेश्वर जी शिवालय गुंजायमान रहता है। इस महीने में जहां बाबा धाम में भगवान शिव के जलाभिषेक को भारी संख्या में कांवरियों का जत्था पहुंचता है, वहीं स्थानीय श्रद्धालु भी धाम में पहुंचकर प्रतिदिन पूजन-अर्चन सहित जलाभिषेक किया करते हैं| प्रत्येक वर्ष के श्रावन मास की तरह इस वर्ष २०१२ में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ होगी सावन में करोड़ो भक्तो आना तय है | हर वर्ष भक्तों की संख्या लाखो की तादात में बढ़ती जा रही है । धाम में श्रावण मास के शुरू होते ही अनगिनत भक्त प्रतिदिन भगवान घुश्मेश्वर का जलाभिषेक करने को पहुंचते हैं। स्थानीय श्रद्धालुओं के अलावा गैर जनपदों से भी भक्तों व कांवरियों का जत्था बाबाधाम पहुंचता है। देश के द्वादश ज्योतिर्लिगं श्री घुश्मेश्वर भगवान के पावन घुइसरनाथ धाम में सावन माह में श्रद्धालुओं द्वारा मन्नतें मांगने का क्रम चलता रहता है। तमाम भक्ति गीतों की धुनों पर नाचते कांवरियों का जत्था अगर घुइसरनाथ धाम की शोभा हुआ करता है , भक्तों के हर हर महादेव की कर्णप्रिय आवाज आने वालों को बरबस ही आकर्षित कर लेती है।

बाबा धाम पर श्रद्धालू श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए पीएसी बल व पुलिस बल तैनात किया जाता है। सुविधा पूर्वक दर्शन एवं जलाभिषेक करने के लिए बैरीकेडिंग भी की जाती है।

  ●●●●●●●●●▬▬▬▬▬▬۩ ۩▬▬▬▬▬●●●●●●●●●●